हिमा दास का जीवन परिचय | Hima Das Biography in Hindi


हिमा दास  एक भारतीय धावक हैं। वो आईएएएफ वर्ल्ड अंडर-20 एथलेटिक्स चैम्पियनशिप की 400 मीटर दौड़ स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी हैं।

व्यक्तिगत जीवन:-

हिमा का जन्म  09 जनवरी 2000 को असम राज्य के नगाँव जिले के ढिंग में हुआ था। उनके पिता का नाम रणजीत दास और माता का नाम जोनाली दास है। उनके माता पिता चावल की खेती करते हैं। ये चार भाई-बहनों से छोटी हैं। दास ने अपने विद्यालय के दिनों में लड़कों के साथ फुटबॉल खेलने की शुरुआत की थी। वो अपना कैरियर फुटबॉल में देख रही थीं और भारत के लिए खेलने की उम्मीद कर रही थीं। फिर जवाहर नवोदय विद्यालय के शारीरिक शिक्षक शमशुल हक की सलाह पर उन्होंने दौड़ना शुरू किया। शमशुल हक़ ने उनकी पहचान नगाँव स्पोर्ट्स एसोसिएशन के गौरी शंकर रॉय से कराई। फिर हिमा दास जिला स्तरीय प्रतियोगिता में चयनित हुईं और दो स्वर्ण पदक भी जीतीं।

खेल और उपलब्धियां :-


      • ट्रैक और मैदान (धावक) (100m, 200m, 300m, 400m)

      • कोच - निपोन दास, नवजीत मालाकार, गैलिना बुखारीना

      • जकार्ता में 2018 एशियाई खेलों में 400 मीटर 50.79 सेकेंड में पुरा करने वाली पहली भारतीय है

      • IAAF World U20 Championships में ट्रैक इवेंट पर गोल्ड मैडल जितने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी है

      • जुलाई 2019 में 21 दिनों में 6 स्वर्ण पदक जीते

हिमा दास का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन-


      • 100 मीटर- (11.74 सेकेंड में),

      • 200 मीटर- (23.10 सेकेंड में),

      • 400 मीटर- (50.79 सेकेंड में) तथा

      • 4X400 मीटर रिले- (3:33.61 में)।

पुरस्कार और ब्रांड अम्बेसडर:-


      • ब्रांड अम्बेसडर - एडिडास (सितम्बर 2018 से अब तक)

      • 25 सितंबर 2018 को भारत के राष्ट्रपति द्वारा अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित।

      • 14 नवंबर 2018 यूनिसेफ इंडिया की पहली युवा राजदूत

      • 2018 में असम सरकार द्वारा असम का स्पोर्ट्स ब्रांड अम्बेसडर नियुक्त किया गया

Post a Comment

Previous Post Next Post